Latest Updates

Shayari    ||     Santa Banta Jokes

जीना चाहता हूँ मगर जिदगी राज़ नहीं आती,

जीना चाहता हूँ मगर जिदगी राज़ नहीं आती,
मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती,
उदास हु इस जिनदगी से,
क्युकी उसकी यादे भी तो तरपाने से बाज नहीं आती 

---------------------------------------------------------------

दुनिया में धोखा आम बात है।

अब सूरज को ही देख लो

आता है किरण के साथ

रहता है रोशनी के साथ

और जाता है संध्या के साथ।

------------------------------------------------------------------

ज़िंदगी ज़िंदगी नहीं जबतक मोहब्बत होती नही
ज़िंदगी ज़िंदगी नहीं जबतक मोहब्बत होती नही

मोहब्बत मोहब्बत नही जब तक हसा कर रुला देती नही

 

 

------------------------------------------------------------------------

दिल से निकली हे दुआ हमारी
जिन्दगी में मिले आपको खुशिया
गम न दे खुदा आपको कभी
चाहे तो एक ख़ुशी कम कर ले हमारी

----------------------------------------------------------------

ए खुदा मोहूबत भी तूने अजीब चीज बनाए है,
तेरे ही बन्दे तेरी मस्जिद में तेरे ही सामने रोते है,
लेकिन तुजे नहीं किसी और को पानेके लिये

------------------------------------------------------------------

जी भर क देखू तुझे अगर गवारा हो .
बेताब मेरी नज़रे हो और चेहरा तुम्हारा हो .
जान की फिकर हो न जमाने की परवाह .
एक तेरा प्यार हो जो बस तुमारा हो!

-------------------------------------------------------------

जीना चाहता हूँ मगर जिनदगी राज़ नहीं आती ,
मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती ,
उदास हूँ इस जिनदगी से ,
क्युकी उसकी यादे भी तो तरपाने से बाज नहीं आती 

--------------------------------------------------------------

ये किताबों के किस्से , ये फसानो की बातें ,
निगाहों की झिलमिल जुदाई की रातें|
महब्बत की कसमें , निभाने के वादे ,
ये धोखा वफ़ा का , ये झूठे इरादे |
ये बातें किताबी ,ये नज्में पुरानी ,
ना इन्की हकीक़त, ना इनकी कहानी|
न लिखना इन्हें , ना महफूज़ करना ,
ये जज्बे हैं बस, इनको महसूस करना.

--------------------------------------------------------------

 

चल मेरे हमनशीं चल अब इस चमन मे अपना गुजारा नही,

बात होती गुलोँ तक तो सह लेते हम अब तो काँटो पे हक़ भी हमारा नही”

“कभी चाहा तुझे ऐसा की रब जैसा पूजा, किस जगह मैने तुझे पुकारा नही,
यु दर्द देकर क्या मिला तुजे? कह देते की तुमसे मिलना अब गँवारा नही”

“अब चला हु घर से ये सोचकर कि इस साहिल का कोई किनारा नही,
ढुंढुगा उसे ईस नजर से ना पा सका तो अब कोई नजारा नही”

ऍ जालिमो अपनी किस्मत पे इतना नाज ना करो.
वक्त तो बदलता ही रहता है,
वो सुनेगा यकीँनन सदाऐँ ” अकेले की,
क्या खुदा सिर्फ तुम्हारा है, हमारा नही?

 

 

 

Shayari    ||     Santa Banta Jokes

जो हो गया उसे सोचा नहीं करते;

!!जो हो गया उसे सोचा नहीं करते;
जो मिल गया उसे खोया नहीं करते;
होती है हासिल मंज़िल उन्हें;
जो वक़्त और हालात पर रोया नहीं करते 

--------------------------------------------------------------

कब दोगे ‘रिहाई’ मुझे इन यादोँ की ‘कैद’ से..,

ऐँ ‘इश्क.. अपने ‘जुल्म’ देख.. मेरी ‘उम्र’ देख

-----------------------------------------------------------

इक छोटी सी हसरत है इस दिल ए

नादान की....!!
कोई चाह ले इस कदर कि खुद पर गुमान हो जाए..!

--------------------------------------------------------------------------------------

तेरे इस जहाँ में..
मैं किसकी कीमत ज्यादा समझूँ ऐ खुदा ...
तू आसमान में मिट्टी से इंसान को बनाता है

और यहाँ इंसान मिट्टी से तुझे.

--------------------------------------------------------------------

लफ्ज़ , अल्फाज, कागज, कलम सब बेईमानी है , 
तुम कहते रहो , हम सुनते रहे ,बस इतनी सी कहानी है !!

--------------------------------------------------------------------

तुम्हे पाने की कोशिश मे कुछ इतना खो चुका हूँ मै...की अगर अब तू मिल भी गया तो मिलने का ग़म होगा !!!!

----------------------------------------------------------------------------------

मौत तो बेखबर साथी है हर इंसान का,

दोस्तों!!!

राह मे चलते-चलते कब मुलाकात हो जाये कौन जाने!!

--------------------------------------------------------------------------------

माना कि बदल गये है मोहब्बत के अंदाज वक्त के साथ,

मगर दिल के चोरी होने का जरिया आज भी आँखे ही है!!

-------------------------------------------------------------------------

कुछ खामोशी को था स्वाभिमान
कुछ लफ्जों को अपना गुरुर
दोनों का ये मौन दूरियों की वज़ह बनता रहा.

--------------------------------------------------------------------

सुख और दुःख क्या है

सुख और सुख हमारे पारिवारिक सदस्य नहीं है ।।
ये तो बस मेहमान है।। 
बारी-बारी से आयेगे 
कुछ दिन ठहर कर चले जायेगे।।
अगर वो नहीं आयेगे तो हम अनुभव कहाँ से लायेंगे ।

-----------------------------------------------------------------------

में खफा नहीं हूँ जरा उसे बता देना आता जाता रहे यहाँ इतना समझा देना ! में उसके गम में शरीक हूँ पर मेरा गम न उसे बता देना, जिन्दगी कागज की किश्ती सही, शक में न बहा देना !

-----------------------------------------------------------------

माना जिंदगी बड़ी तल्ख है,

माना मुश्किलें बड़ी सख्त हैं, ,,,
पर मैं "खुशी" हूँ ,
हर हाल में जीना जानती हूँ ,,,,,,
,
माना दिलों में दर्द बहुत है,
माना रिश्ते सर्द बहुत हैं, ,,,,,,
पर मैं "खुशी" हूँ,
हर जगह खिलना जानती हूँ ।

-----------------------------------------------------------

लाइफ में दो शब्द कहने में काफी मुश्किल होती हैं 

पहली बार किसी अजनबी से हैलो और आखरी बार किसी अपने से अलविदा..

----------------------------------------------------------------------

" ऐ इश्क़ ........

तेरा वकील बन के गलती कर दी मैनें..........
...
यहाँ हर कोई आशिक तेरे खिलाफ सबूत लिए बैठा हैं

 

 

Shayari    ||     Santa Banta Jokes

Botal Main Sharab Sharab Main Uski Tasveer Nazar Aati Hai

Botal Main Sharab Sharab Main Uski Tasveer Nazar Aati Hai Nahi Peeta To Nasha Chala Jata Hai Peeta Ho To Uski Tasveer Chali Jati Hai

---------------------------------------------------------------------------------

Ummid Nahi Hai Phir Bhi Jiye Ja Raha Hoon Khali Hai Bottle Phir Bhi Piye Ja Raha Hoon Pata Nahi Woh Mile Ge Ya Nahi Izhar-E-Mohabaat Ke Liye Peea Jaa Raha Hoon

----------------------------------------------------------------------------------

Mahobbat Ke Lamhe Sharaab Lagte Hain Kuch Chehre Lajavaab Lagte Hain Dard Itne Sahe Mohabbat Main Guzre Hue Ki Har Lamhe Hi Azaab Lagte Hain

----------------------------------------------------------------------------------

Unko Mohabbat Ki Sachaai Maar Dalegi Unko Ko Mohabbat Ki Gehraai Maar Dalegi Kar Ke Mohabbat Koi Nahi Bachegaa Unki Judaai Main Hame Sharab Maar Dalegi

--------------------------------------------------------------------------------

Yaado Se Salaam Leta Hoon Waqt Ke Haath Thaam Leta Hoon Zindege Tham Jaati Hai Pal Bhar Ke Liye Jab Mein Hathon Mein Sharab-e-Jaam Leta Hoon

------------------------------------------------------------------------------

Lehron Se Khelta Hua Lehra Ke Pigaya Sakhi Ki Har Nigha Ha Per Balkha Ke Pigaya Maine To Chohd Di Thi,Per Rone Lagi Sharab Uske Ansoo Per Taras Kha Ke Pigaya

----------------------------------------------------------------------------

Ye Dil Sharabi Hai Har Kadam Par Machal Jata Hai Tum Agar Chod Ke Chale Jaoge Isko To Ise Gam Nahin Ye To Roz Naye Maikhane Se Dil Behlata Hai

------------------------------------------------------------------------------

Kyo Mujhe Maut Ke Paighaam Diye Jaate Hain Ye Sazaa Kam To Nahii Ki Ham Jiye Jaate Hain Nashaa Dono Mein Hai Saaqi… Mujhe Gham De Ya Sharaab

----------------------------------------------------------------------------

Kyoo Samajhte Ho Tum Sharaab Meri Kamzori Hai Jao Poocho Zara Saaki Se Kitne Gam Ko Main Ne Dabaya Hai Jaam Ke Sahare Main Peeta Nahin Sirf Nashe Ke Liye Ye Sharaab To Meri Saathi Hai Har Shaam Ke Liye

----------------------------------------------------------------------------

Nash-E-Sharab Mein Shayari Likhne Ka Alag Sa Maza Aata Hai Main Nahin Daalta Ras Shayari Mein Ye To Sharab Ke Sang Aa Jata Hai

-----------------------------------------------------------------------------

Dil Ki Aisee Dhadkan Hoon Jise Dil Ne Kabhi Apna Na Samjha Khushnaseeb, Is Sharabi Ko Sirf Sharab Ne Apna Samjha

-----------------------------------------------------------------------------

Barsa Do Saare Baadal Suraj Per Uski Aag Kam Na Hogi Pila Do Ess Jahaan Ki Sari Sharab Hum Ko Dard-E-Dil Ki Aag Jara Bhi Kam Na Hogi

-----------------------------------------------------------------------------

Kutch Peete Hai Nasha Chadaane Ke Liye Kutch Peete Hai Gum Bhulaane Ke Liye Jaane Kyun Duniya Kehti Hai Sharab Ko Bura Sharabi To Peeta Hai Muskuraane Ke Liye

----------------------------------------------------------------------------

Bewafaaii Ki Jab Usne Di Dhamki Mujhe Keh Diya Maine Ki Dekha Jaayega Pee Bhi Lee, 2 Ghoont Sakhi Pee Bhi Lee Maikade Se Kaun Pyaasa Jaayega Bewafaaii Ki Jab

--------------------------------------------------------------------------